Followers

Wednesday, 26 February 2014

यह तो नहीं हैं आशिक़ी......

सत्यम का कॉल देखते ही अविका ने एक मिनट भी बर्बाद नहीं किया और फटाफट से बोल पड़ी 
hi....hw`s u...???
क्या कर रहे थे ???
सत्यम-बस तुम्हें याद :-)
हुह..... कितना फेंकते हो तुम एनीवे बताओ क्या बात हैं ????
एक्चुअली कल मूवी देखने चले ????
अविका ने पूछा ठीक हैं पर कौनसी ????
सत्यम-आशिक़ी -2.... 
अविका-वोव इट्स अ अमेजिंग मूवी बताया मेरी फ्रेंड्स ने 
चलते हैं पर हां चलेंगे सत्यम सिनेप्लेक्स में ही ठीक हैं ना ???
सत्यम-ओके बाबा:-)
अकसर अविका और सत्यम भी मूवी देखते हुए अपने-२ अनुमान के 
अनुसार भविष्यवाणी करते रहते थे कि अब यह होगा, अब यह होगा ??
कि अविका बोल पड़ी तुम्हें पता हैं अब देखना इस मूवी में यह आरोही एक अच्छी सिंगर बन जायेगी !
सत्यम-हां सही हैं और देखो ना आरजे पागल हो गया हैं 
जो कि अपनी सारी शोहरतों का सहेरा इसके सर बाँधने जा रहा हैं 
पर देखना यह सब यह नहीं सम्भाल पायेगी :-)
अविका-ओफ्फो this is a movie don`t try to make b so senti:-)
और तुम्हें पता हैं अब मूवी एंड होने वाली सो आई थिंक अब आरजे अच्छा इंसान 
बन जाएगा जैसा कि आरोही चाहती हैं 
सत्यम -अविका तुम सच में बेवकूफ हो अब यह नहीं बनेगा अच्छा 
अगर बनना होता तो कब का ही बन गया होता 
ओफ्फो अगला दृश्य आरजे ने आत्महत्या कर ली 
अविका थोडा दुखी हुयी फिर वो थोड़ा घबराकर सत्यम की तरफ देखने लगी 
वो खुश था कि उसने सही सोचा और अविका दुखी थी यह जानकर कि 
सारे लड़कों की फितरत एक जैसी ही हैं 
"फिर वो अपने मन में आशिक़ी की बातों को सोचते हुए 
जिंदगी के सफ़र पर फिर चल पड़ी 
सड़क को कदमों से नापते हुए सोचा कितना नपा-तुला सा सफ़र तय कर लिया हैं 
इस दुनिया, इस भीड़ का पर आज तक उनके दिल के परदे के पीछे छुपे राज तक नहीं जान पायी 
नहीं.......नहीं यह तो नहीं हैं आशिक़ी :-)"  

4 comments:

Yashwant Yash said...

नहीं.......नहीं यह तो नहीं हैं आशिक़ी ....


हो भी सकती है :)

Yashwant Yash said...

कल 28/02/2014 को आपकी पोस्ट का लिंक होगा http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर
धन्यवाद !

sarika bera said...

hmmmmmm........
may b...bt i don`t think so.....

sarika bera said...

bahut-2 aabhar G:-)